Website kya hai ? ye kitne prakar ki hoti hai ?

नमस्कार दोस्तों आज का हमारा शीर्षक है Website क्या है  ? Website कितने प्रकार की होती है ? दोस्तों आज कल सभी कुछ बदल गया है सभी लोग बहुत ही मॉडर्न हो गए है। 




अब हमे किसी भी चीज़ के बारे में जानना होता है तो हम किसी दूसरे व्यक्ति से पूछने से अच्छा इंटरनेट से जानकारी हासिल करना समझते है। 


हम हर छोटे से छोटे और बड़े से बड़े प्रशन का उत्तर हम इंटरनेट से ही निकलना पसंद करते है है। फिर चाहे वो School में Admission कराना हो या फिर किसी Company में Job ढूढ़ना हो हम सभी कुछ इंटरनेट की मदद से ही करते है। 


लेकिन क्या आपने कभी सोचा है की यह सब जानकारी इंटरनेट पर कहा से आती है। तो चलिए इस प्रश्न का उत्तर बताता हु। 


दरअसल हम जब भी किसी प्रश्न को इंटरनेट पर सर्च करते है तब Browser हमारे सामने बहुत साडी Websites को दिखता है जो उस प्रश्न से Related होती है। चले इसी चीज़ को बिस्तार में समझते है। 


Website क्या है ?

Webpages के Collection को Website कहते है या यह भी कह सकते है की Website एक ऐसी Location है झा बहुत से Webpages को रखा जाता है और हर एक Webpage में कुछ न कुछ Information होती है।

जैसे आप इस समय Website के एक Webpage पर है। यह Tarang Ideas एक Website है और Website क्या है ? ये कितने प्रकार की होती है ? यह एक Webpage है जिसे आप Read कर रहे है। 

हमारी Website पर जितनी भी पोस्ट है वो सभी अलग अलग Webpages कहलाएगी मतलब अगर आप किसी और पोस्ट पर क्लिक क्र के उसे Open करेंगे तो वह भी एक Webpage है। 

 हम किसी भी Website को Open करने के लिए Google Chrome , UC Browser , Opera Mini etc Search Engine की मदद लेते है। 

अगर अभी भी आपको समझ नहीं आया है तो हम आपको एक उदहारण की मदद से समझते  है। 

Ex:-  मान लीजिये की आपको एक Website Open करनी है Tarangideas.com इसके लिए आपको सबसे पहले आपको कोई Search Engine को Open करना है 

और उसके Search Bar पर आपको Tarangideas.com लिख कर Search करना है। अब आपके सामने  Tarangideas.com Website का Home Page Open होगा जिसमे आपको बहुत सी पोस्ट दिखाई देगी जिसे Webpage कहते है। 

अब आप जरा फिर से इस वाक्य को पड़े " Webpages के Collection को Website कहते है " उम्मीद है की अब आप समझ गए होंगे की Website क्या है ?

Website के प्रकार 

हम हर रोज़ बहुत सी चीज़े इंटरनेट पर सर्च करते है जिस दौरान हम बहुत सी तरह की Website को ओपन करते है। सभी Website अलग अलग प्रकार की होती है लेकिन इन्हे हम दो अहम प्रकार में वाट सकते है। 

  • 1. Static Website 
  • 2. Dynamic Website 

चलिए अब इसे थोड़ा विस्तार में समझते है। 

1. Static Website 

यह एक Basic प्रकार की Website है जिसे बनाना बहुत ही आसान है। इसको बनाने के लिए आपको Web Programming और Database Design की आवयश्कता नहीं है  

आप  इसे बहुत ही आसानी से HTML से Design कर सकते है। हर एक Page के लिए अलग कोड निर्धारित होता है इसलिए पेज में दी गयी जानकारी नहीं बदलती है। यह एक प्रिंटेड पेज की तरह दिखाई देता है। 

2. Dynamic Website 

यह डायनामिक पेजो का कलेक्शन है। इसका कंटेंट डायनामिक रूप से ही बदला जाता है। इसका कंटेंट डेटाबेस या कंटेंट मैनेजमेंट सिस्टम से ही वेबसाइट पर पहुँचता है। इसलिए वेबसाइट के कंटेंट को अपग्रेड या बदलने के लिए हमे डेटाबेस का कंटेंट बदलना पड़ता है। 

डायनामिक कंटेंट Generate करने के लिए इसमें क्लाइंट-साइड स्क्रिप्टिंग या सर्वर साइड स्क्रिप्टिंग या दोनों का इस्तेमाल होता है। 

अगर अब भी आपको Website और Webpage में कुछ समझ नहीं आया है तो चले आपको कुछ अंतर् और बता देते है 

Website और Webpages में अंतर   

Website 

Website को आसान शब्दों में Site कहते है। यह Webpages का एक Collection  होता है  या ये कहे की Website में Webpages का Group होता है और सभी Webpages एक दूसरे से कनेक्ट  है। 

Webpage 

ये Documents होते है इन्हे Web Browsers पर Display किया जाता है। Web Browsers जैसे Opera , Google Chrome , Fire Fox  ETC . इन्ही Documents को Pages भी खा जाता है। 

कुछ अन्य परिभाषा 

Website को समझने के लिए आपको कुछ और परिभाषाओ की भी जानकारिया होनी भी बहुत आवयशक है जो आपको नीचे समझाये गए है। 

Home Page 

Website के पहले  पेज को Home Page कहते है या कह सकते है की जब हम किसी भी Website को Open करते तब जो पेज सबसे पहले खुलता है उसे ही Home Page कहते है। Ex. जब आप Tarangideas.com Website पर क्लिक करेंगे तब जो पहला पेज खुलेगा उसे Home Page कहते है। 

Search Engine 

यह एक प्रोग्राम है या ये कह सकते की यह एक ऐसा Web प्रोग्राम है जो इंटरनेट पर असीमित डेटाबेस में से यूजर जो भी सवाल इंटरनेट पर सर्च करता है उससे सम्बन्धित जितनी भी जानकारी होती है उसे हमारे सामने दिखा देता है।  

Web Address / URL 

URL की फुल फॉर्म Uniform Resource Locator होती है ये किसी Webpage को Represent करता है या किसी Webpage तक ले जाता है। 

URL किसी फाइल या वेबपेज का एड्रेस होता है या हम ये भी कह सकते  है की यूआरएल किसी वेबसाइट का नाम या पता होता है  जिससे  इंटरनेट पर किसी वेबसाइट पर जाना जाता है। 

Domain Name 

Domain Name हमारी वेबसाइट का नाम होता है। Domain  Name वह पता है जिससे यूजर हमारी वेबसाइट पर आसानी से पहुंच सकते है। 

Domain Name का इस्तेमाल एक या एक से अधिक IP Address की पहचान करने के लिए किया जाता है। 

उदहारण :- Tarangideas.com यह Domain का नाम है।Webpage  की  पहचान करने  के  लिए  Domain Name को  URL में  लिखा  जाता  है  .

https://www.tarangideas.com/  URL    में tarangideas.com Domain नाम है। 

आपने बहुत बार देखा होगा की Website के अंत में  " .com , .gov  , .in  etc जुड़ा होता है य सभी Domain है।  

में आसा करता हु की Website kya hai ? ye kitne prakar ki hoti hai ? ये आपके अछि तरह समज आ गया होगा। 

अगर आपको कोई सबल पूछना है तो अप्प निचे coment box में पूछ सकते है हमारी टीम आपकी मदद जरूर करे धन्यबाद। 

Post a comment

Post a Comment (0)

Previous Post Next Post